अररिया- अनमोल एप के सफल क्रियान्वयन को लेकर मास्टर ट्रेनरों का प्रशिक्षण शुरू।

  • लाभार्थियों को मिलेगी ससमय स्वास्थ्य सेवाएं, मातृ व शिशु मृत्यु दर होगा कम

अररिया, 06 सितंबर | जिले में प्रजनन व बाल स्वास्थ्य सेवाओं से संबंधित आंकड़ों का रिकार्ड ऑनलाइन हो चुका है। ऐसे में रिप्रोडक्टिव एंड चाइल्ड हेल्थ यानी आरसीएच पोर्टल को सुविधाजनक बनाना जरूरी हो गया है। एएनएम को आरसीएच पोर्टल पर आंकड़ों का संधारण व अनुश्रवण ऑनलाइन करना है। इसके लिए जिले की सभी एएनएम को आरसीएच पोर्टल व अपग्रेडेड अनमोल एप से संबंधित विशेष प्रशिक्षण दिया गया। इस प्रशिक्षण कार्यक्रम का आयोजन मंगलवार को रेडक्रॉस सभा भवन में किया गया। प्रथम चरण में मास्टर ट्रेनरों को जरूरी प्रशिक्षण दिया जा रहा है। इसके लिये 20 एएनएम पर एक एएनएम को मास्टर ट्रेनर बहाल किया गया है। सिविल सर्जन विधानचंद्र सिंह की अध्यक्षता में डीपीएम स्वास्थ्य रेहान अशरफ, जिला मूल्यांकन व अनुश्रवण पदाधिकारी पंकज कुमार, यूनिसेफ के एसएमसी आदित्य कुमार, पिरामल स्वास्थ्य पीएल राजीव कुमार सहित अन्य ने इसमें भाग लिया। प्रशिक्षण के पहले दिन अररिया व रानीगंज प्रखंड के प्रभारी चिकित्सक, बीएचएम व बीसीएम ने प्रशिक्षण कार्यक्रम में भाग लिया ।

आंकड़ों को पोर्टल पर अपलोड करेंगी एएनएम

सिविल सर्जन डॉ विधानचंद्र सिंह ने कहा कि विभाग द्वारा अनमोल एप को अपग्रेड किया गया है। इसके साथ आंकड़ों को भी अपडेट किया जा रहा है। इसके लिए सभी एएनएम को विभाग द्वारा पहले ही टैब दिया गया है। एएनएम अनमोल एप का प्रयोग कर उक्त आंकड़ों को आरसीएच पोर्टल पर अपलोड करेंगी। डीपीएम स्वास्थ्य रेहान अशरफ ने बताया कि पूर्व में सेवा प्रदाता एएनएम आरसीएच सर्विसेस से संबंधित आंकड़ों का संधारण आरसीएच रजिस्टर में करती थीं। जो अब ऑनलाइन हो चुका है। अनुश्रवण के लिये जिला व प्रखंड स्तरीय पदाधिकारियों को नामित किया गया है। जो अनमोल एप के माध्यम से आरसीएच सेवा से संबंधित सही व पूर्ण आंकड़े पोर्टल पर अपलोड करने के लिये जिम्मेदार होंगे।

गर्भवती महिला व बच्चों से जुड़ी सेवाओं की होगी बेहतर मॉनिटरिंग

डीएमएनई पंकज कुमार ने बताया कि आरसीएच पोर्टल के माध्यम से गर्भवती महिलाओं व बच्चों को दी जा रही स्वास्थ्य सेवाओं की मॉनिटरिंग भी की जाती है। ताकि लाभार्थियों को ससमय बेहतर स्वास्थ्य सेवाएं उपलब्ध कराकर मातृ व शिशु मृत्यु दर में कमी लाया जा सके। सभी एएनएम द्वारा आरसीएच पोर्टल व अनमोल एप का उपयोग सुनिश्चित कराया जाना है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.