अररिया- टीकाकरण अभियान में सक्रिय भागीदारी के लिये पीएम मोदी ने डॉ जमील के प्रयासों को सराहा।

  • प्रधानमंत्री मोदी ने पत्र भेजकर डॉ जमील को दी बधाई व शुभकामना, स्वास्थ्य महकमा उत्साहित।
  • प्रधानमंत्री का पत्र पाकर बढ़ा है हौसला, समर्पण भाव से करूंगा जिम्मेदारियों का निवर्हन : डॉ जमील

अररिया, 30 अगस्त । प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कोरोना टीकाकरण अभियान में सक्रिय भागीदारी के लिये कुर्साकांटा पीएचसी प्रभारी डॉ जमील अख्तर के प्रयासों को सराहा है। पीएम मोदी ने पत्र भेजकर डॉ जमील व उनके पूरे परिवार को बधाई व शुभकामना दी है। पीएम के पत्र में कहा गया है कि 16 जनवरी 2021 को पूरे देश में कोरोना टीकाकरण की प्रक्रिया शुरू हुई। 17 जुलाई 2022 को हमने 200 करोड़ वैक्सीन डोज लगाने का लक्ष्य हासिल कर लिया। जो कोरोना के खिलाफ हमारी उत्कृष्ट उपलब्धि है। इस महत्वपूर्ण उपलब्धि के लिये प्रधानमंत्री मोदी ने डॉ जमील व उनके तरह अपने कर्तव्य व जिम्मेदारियों के प्रति समर्पित अन्य स्वास्थ्य कर्मियों के प्रयासों की सराहना अपने पत्र में की है।

पीएम मोदी ने दी बधाई व शुभकामना

पीएम मोदी ने अपने पत्र में कहा है कि वैश्विक महामारी के मुश्किल दौर में लोगों का जान बचाना मुश्किल हो रहा था। ऐसे मुश्किल परिस्थिति में टीका लगाने वाले, हेल्थ केयर वर्कर्स , सपोर्ट स्टाफ, फ्रंट लाइन वर्कर्स ने अहम भूमिका निभाई। टीकाकरण अभियान में हर कोई शामिल हुआ। सर्द पहाड़ों से लेकर गर्म रेगिरस्तान पर बसे गांव, जंगलों में भी हमारे टीकाकर्मी पहुंचे। दुनिया के सबसे बड़े टीकाकरण कार्यक्रम को जो गति व व्यापकता मिली। वो आप जैसे कर्मियों के प्रयास से ही संभव था। टीकाकरण अभियान में डॉ जमील की अग्रणी भूमिका निभाने के लिये प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने उन्हें व उनके परिवार को बधाई व शुभकामना दी है।

दोगुने उत्साह व मनोबल से करूंगा अपने जिम्मेदारियों का निवर्हन

प्रधानमंत्री से पत्र प्राप्त होने पर डॉ जमील ने प्रसन्नता व्यक्त करते हुए कहा कि इससे अपने कार्य व जिम्मेदारियों के प्रति उत्साह व मनोबल दोनों बढ़ा है। आगे भी इसी तरह सेवा व समर्पण भाव से अपने जिम्मेदारियों का निवर्हन करूंगा। उन्होंने प्रशंसापत्र को स्वास्थ्य विभाग व संपूर्ण पीएचसी कर्मियों को समर्पित करते हुए कहा कि उनसे प्राप्त सहयोग के बूते हम आगे भी बेहतर चिकित्सकीय सेवा आम लोगों तक पहुंचाने की मुहिम में जुटे रहेंगे। प्रशंसा पत्र प्राप्त होने के बाद से ही डॉ जमील को लगातार बधाई व शुभकामना प्राप्त हो रही है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.