अररिया – दादी प्रकाशमणि के पुण्यतिथि को।विश्व बंधुत्व दिवस के रूप में मनाया गया

नजरिया संवाद अररिया। गुरुवार को ब्रह्माकुमारीज राजयोग सेवा केंद्र अररिया आरएस में दादी प्रकाशमणि का 15वां पुण्यतिथि मनाया गया। इस अवसर पर कार्यक्रम आयोजित किये गये। उपस्थित ब्रह्माकुमार व कुमारियों को परमपिता परमात्मा शिव का मुरली सुनाया गया। बीके संजय गुप्ता ने कहा कि आज के दिन को विश्व बंधुत्व दिवस के रूप में मनाया जाता है। आज विश्व के 157 देशों में दादी प्रकाशमणि को श्रद्धांजलि दिया गया।

बीके खुशबू बहन ने भी दादी प्रकाशमणि के व्यक्तित्व का चित्रण करते हुए कहा कि दादी प्रकाशमणि एक ऐसी प्रकाश थी जो पूरे विश्व मे फैली। ब्रह्मा बाबा के शरीर छोड़ने के पश्चात 1969 में दादी प्रकाशमणि ने यज्ञ की वृद्धि की, मातृ स्नेह से सबकी पालना की, यज्ञ के प्रशासन को जिस कुशलता के साथ संभाला और इस संस्था का विस्तार 157 देशों में फैलाया, यह कोई भी ब्रह्मावत्स भूल नहीं सकते। कुमारी होने के बाद भी महामंडलेश्वर ने उन्हें माँ कहकर पुकारा।
इस श्रद्धांजलि कार्यक्रम में दादी प्रकाशमणि के तस्वीर पर माल्यार्पण कर व पुष्प अर्पित कर उन्हें श्रद्धांजलि अर्पित की गई। इस कार्यक्रम में अररिया एसडीपीओ श्री पुष्कर कुमार मुख्य अतिथि के रूप में उपस्थित रहे। उनके अलावा समाजसेवी बहन सुस्मिता ठाकुर, पार्षद गौतम साह, प्रो० अमरेंद्र गुप्ता, फूलमनी बहन, रुचि बहन, सरिता बहन, कौशल्या माता, शर्मिला गुप्ता एवं सविता गुप्ता सहित कई लोग उपस्थित रहे। बैंक कर्मी संजय गुप्ता ने मंच संचालन का कार्य किया।

दादी प्रकाशमणि की उपलब्धियां :
● 1954 ई० में द्वितीय विश्व धर्म सम्मेलन में शिरकत करने अमेरिका गयी।
● 1985 ई० में संयुक्त राष्ट्र संघ में अंतरराष्ट्रीय शांति पदक से सम्मानित
● 1987 ई० में संयुक्त राष्ट्र संघ ने सकारात्मक कार्य के लिये शांतिदूत सम्मान से नवाजा
● 1992 ई० में राजस्थान के राज्यपाल एम चभा रेड्डी ने उन्हें डॉक्टरेट की उपाधि से नवाजा
● 2000 ई० में (शिकागो) अमेरिका में विश्व धर्म सम्मेलन में मनोनीत अध्यक्ष बनाया गया

Leave a Reply

Your email address will not be published.