अररिया- मिशन 60 दिवस : सदर अस्पताल में संचालित विकासात्मक कार्यों का डीडीसी ने किया निरीक्षण।

  • स्वच्छता संबंधी बेहतर इंतजाम के साथ ओपीडी सेवाओं को प्रभावी बनाने का दिया निर्देश।
  • अतिक्रमणकारियों के कब्जे से मुक्त कराया जाये अस्पताल का बाहरी परिसर

अररिया, 04 नवंबर। मिशन 60 दिवस के तहत सदर अस्पताल में संचालित विकासात्मक कार्यों को अंतिम रूप दिया जा रहा है। अभियान के सफल संचालन को लेकर वरीय अधिकारियों द्वारा निरंतर अस्पताल का अनुश्रवण व निरीक्षण किया जा रहा है। शुक्रवार को उप विकास आयुक्त मनोज कुमार ने सदर अस्पताल का निरीक्षण किया। उन्होंने अस्पताल परिसर में अस्पताल में उपलब्ध चिकित्सकीय इंतजाम, ओपीडी व इमरजेंसी सेवाएं, निर्माणाधीन भवन, पार्किंग के इंतजाम, वेटिंग जोन सहित अन्य कार्यों का गंभीरतापूर्वक मुआयना किया। अस्पताल की क्रियाशीलता व दृष्टिगत बदलाव को लेकर संचालित कार्यों का सफल संचालन सुनिश्चित कराने का आदेश उन्होंने दिया।

अस्पताल परिसर को अतिक्रमणकारियों से करायें मुक्त

निरीक्षण के क्रम में डीडीसी मनोज कुमार ने अस्पताल परिसर में बेतरतीब ढंग से वाहनों की पार्किंग पर सख्ती पूर्वक रोक का आदेश दिया। उन्होंने अस्पताल के बाहर पड़े रहने वाले एंबुलेंस को हटाने का निर्देश दिया। डीडीसी ने चिह्नित स्थानों पर वाहन की पार्किंग सुनिश्चित कराने को कहा। उप विकास आयुक्त ने अंचलाधिकारी अररिया को अस्पताल के बाहरी परिसर को अतिक्रमणकारियों के कब्जे से मुक्त कराने का निर्देश दिया। अस्पताल परिसर में निर्माणाधीन भवनों का निरीक्षण करते हुए उन्होंने कार्यों में तेजी लाने का निर्देश दिया। सदर अस्पताल में स्वच्छता संबंधी इंतजाम दुरूस्त करने का निर्देश उन्होंने अस्पताल प्रबंधक को दिया। अस्पताल के जीर्णोद्धार संबंधी कार्यों पर संतोष जाहिर करते हुए इसे ससमय पूरा करने का निर्देश उन्होंने दिया। सदर अस्पताल में बने कुल 54 शौचालयों के साफ-सफाई का बेहतर इंतजाम सुनिश्चित कराने का निर्देश डीडीसी ने दिया।

ओपीडी सेवाओं को ज्यादा प्रभावी बनाने की जरूरत

ओपीडी सेवाओं का निरीक्षण करते हुए उप विकास आयुक्त ने एनसीडी सेवाओं को दुरूस्त करने का निर्देश दिया। संबंधित सेवाओं की समीक्षा करते हुए एनसीडी क्लिनिक के सफल संचालन का उन्होंने निर्देश दिया । उन्होंने कहा कि ठंड के मौसम मे हर्ट अटैक व डायबिटीज से होने वाली मौत के मामलों में बढ़ोतरी की संभावना होती है। लिहाजा अधिक से अधिक लोगों की जांच कर उन्हें नि:शुल्क दवा उपलब्ध कराने का निर्देश डीडीसी ने दिया। उन्होंने प्रमुखता के आधार पर 30 साल से अधिक आयु वर्ग के लोगों का एनसीडी जांच सुनिश्चित कराने का निर्देश दिया।

सुलभता पूर्वक बेहतर सेवा उपलब्ध कराने की है पहल

सिविल सर्जन डॉ विधानचंद्र सिंह ने बताया कि मिशन 60 दिवस के तहत अस्पताल की क्रियाशीलता व दृष्टिगत बदलाव संबंधी कार्य प्रमुखता के आधार पर संपादित किये जा रहे हैं। इससे मरीजों को सुलभता पूर्वक बेहतर चिकित्सकीय सेवा उपलब्ध हो सकेगा। विभाग का ध्यान एनसीडी सेवाओं की बेहतरी पर टिका है। इसे बेहतर बनाने की रणनीति पर काम चल रहा है। डीपीएम स्वास्थ्य रेहान अशरफ ने बताया कि अगले कुछ दिनों में जिलाधिकारी द्वारा सदर अस्पताल के निरीक्षण का कार्यक्रम प्रस्तावित है। लिहाजा निर्धारित कार्यों को ससमय पूरा करने की कवायद तेज कर दी गयी है। बेहतर चिकित्सकीय माहौल के साथ लोगों को सुलभता पूर्वक बेहतर स्वास्थ्य सेवा उपलब्ध कराना विभाग का उद्देश्य है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.