अररिया- स्वास्थ्य मानकों में सुधार को लेकर करें एकजूट प्रयास: सिविल सर्जन।

  • सिविल सर्जन ने सहयोगी संस्था के प्रतिनिधियों के साथ की बैठक, दिये जरूरी निर्देश।
  • महत्वपूर्ण स्वास्थ्य मानकों में सुधार को लेकर सहयोगी संस्था करें जरूरी पहल।

अररिया, 02 सितंबर । जिले में स्वास्थ्य सेवाओं की बेहतरी के लिये स्वास्थ्य विभाग के साथ-साथ कई अन्य सहयोगी संस्थाएं सक्रिय हैं। सहयोगी संस्थाओं के बीच बेहतर समन्वय स्थापित करते हुए जरूरी सेवाओं की पहुंच आम लोगों तक सुनिश्चित कराने के उद्देश्य से सिविल सर्जन की अध्यक्षता में शुक्रवार को विशेष बैठक आयोजित की गयी। बैठक में स्वास्थ्य विभाग के विभिन्न सहयोगी संस्था के प्रतिनिधियों ने भाग लिया। इसमें स्वास्थ्य सेवाओं से जुड़े विभिन्न मानकों पर विस्तृत चर्चा करते हुए इसमें सुधार को लेकर कारगर रणनीति पर विचार किया गया। बैठक में डीवीबीडीसीओ डॉ अजय कुमार सिंह, डीआईओ डॉ मोईज, डीपीएम स्वास्थ्य रेहान अशरफ सहित डब्ल्यूएचओ, यूनिसेफ, पिरामल, केयर, सीएफएआर सहित अन्य सहयोगी संस्था के प्रतिनिधियों ने भाग लिया।

सेवाओं की बेहतरी के लिये एकजूट प्रयास जरूरी

बैठक में विभिन्न स्वास्थ्य मानकों की गहन समीक्षा की गयी। नीति आयोग द्वारा निर्धारित मानकों को छोड़ अन्य मामलों में जिले के कमतर प्रदर्शन पर सिविल सर्जन ने बैठक में अपनी नाराजगी जाहिर की। उन्होंने कहा कि विभाग सहित संबंधित अन्य संस्था स्वास्थ्य सेवाओं की मजबूती के लिये प्रतिबद्ध हैं। बावजूद महत्वपूर्ण स्वास्थ्य मानकों में हमारा कमतर प्रदर्शन चिंतनीय है। उन्होंने कहा कि आपसी समन्वय का अभाव, जिम्मेदारियों के प्रति उदासीनता को उन्होंने इसकी वजह बताते हुए इसमें आवश्यक सुधार को लेकर कई जरूरी दिशा निर्देश बैठक में दिये। उन्होंने जिम्मेदारी निर्धारित करते हुए विभिन्न प्रखंडों में संचालित गतिविधियों के नियमित अनुश्रवण व निरीक्षण का जिम्मा सहयोगी संस्था के प्रतिनिधियों को सौंपा। साथ ही इससे संबंधित मानकों में सुधार को लेकर कारगर प्रयास करने का निर्देश उन्होंने दिया।

सहयोगी संस्था का उचित सहयोग जरूरी

विभिन्न स्वास्थ्य मानकों पर चर्चा करते हुए डीपीएम स्वास्थ्य ने कहा कि मातृ शिशु मृत्यु दर में सुधार, प्रथम तिमाही के दौरान गर्भवतियों की पहचान व एएनसी जांच के मामले में प्रदर्शन में सुधार को लेकर हमें कारगर पहल करने की जरूरत है। उन्होंने कहा कि डेली मेडिसिन सेवाओं का संचालन, नियमित कोरोना व नियमित टीकाकरण से संबंधित उपलब्धियों में सुधार, संस्थागत प्रसव को बढ़ावा देने व इसे लेकर स्वास्थ्य संस्थानों में जरूरी सुविधाओं के विकास को लेकर जरूरी प्रयास अपेक्षित है। सहयोगी संस्था के प्रतिनिधियों से विभिन्न स्वास्थ्य मानकों में सुधार को लेकर जरूरी सुझाव प्राप्त करते हुए इसमें अपेक्षित सहयोग को लेकर निर्देशित किया गया है। बैठक में डब्ल्यूएचओ के विवेक गुप्ता, पिरामल फाउंडेशन के संजीव कुमार, राजीव कुमार, केयर इंडिया के पल्लवी कुमारी, नौशाद शाह, सीएफएआर के पल्लवी कुमारी व पंकज झा सहित अन्य मौजूद थे.

Leave a Reply

Your email address will not be published.