बेतिया- कोविड टीकाकरण के 191 सत्रों पर टीकाकरण की गति को करें तेजः सिविल सर्जन।

– कोर्बीवैक्स का उपयोग प्रीकॉशन डोज में ज्यादा करने की सलाह

– प्रीकॉशन डोज बढ़ाने के लिए लोगों को करें जागरुक

बेतिया। 22 अगस्त। जिले में कोविड टीकाकरण की स्थिति को और सुद्ढ़ बनाने के लिए सिविल सर्जन डॉ बीरेन्द्र कुमार चौधरी ने सभी प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारियों को माइक्रोप्लान के तहत काम करने को कहा है। सिविल सर्जन ने कहा कि जिले में 18 वर्ष से उपर के लाभार्थी जिनको प्रीकॉशन डोज दिया जाना है, बड़ी संख्या में  बचे हुए हैं। इसके अलावा 12 से 14 वर्ष आयु वर्ग एवं 14 से 18 वर्ष आयु वर्ग के काफी बच्चे अभी भी प्रथम एवं द्वितीय डोज की खुराक लेने से वंचित हैं। टीकाकरण से छूटे ऐसे लोगों को ड्यू लिस्ट के अनुसार जागरूक कर टीकाकृत किया जाना है। इस बाबत जिला प्रतिरक्षण पदाधिकारी द्वारा सभी प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी को सूचित भी किया जा चुका है। जागरूकता के लिए आरबीएसके वाहनों के द्वारा नियमित रुप से प्रचार-प्रसार कराया जा रहा है। सीएस ने लोगों से अपील की कि कोविड संक्रमण से पूर्ण बचाव के लिए कोविड टीकाकरण अवश्य करवाएं। तीनों डोजों के बाद ही आपका कोविड से सुरक्षा चक्र पूरा होता है।

जिले में 191 सत्रों पर हो रहा कोविड टीकाकरण-

सिविल सर्जन डॉ बीरेन्द्र कुमार चौधरी ने बताया कि अभी जिले में कोविड टीकाकरण के लिए कुल 191 सत्र आयोजित किए जा रहे हैं। जिसमें 22 अगस्त दिन के एक बजे तक कुल  51 लाख 18 हजार 580 डोज पड़ चुके हैं। इसमें प्रथम डोज की संख्या 25 लाख 35 हजार 201 तथा दूसरी डोज लेने वालों की संख्या 2 लाख 27 हजार 217 है। उम्मीद है कि जल्द ही प्रीकॉशन डोज वालों की संख्या भी तीन लाख के पार हो जाएगी।

12 से 14 और प्रीकॉशन डोज में कोर्बीवैक्स का इस्तेमाल करें-

जिला प्रतिरक्षण पदाधिकारी डॉ अवधेश कुमार सिंह ने बताया कि सभी टीकाकरण सत्रों पर कोर्बीवैक्स का इस्तेमाल ज्यादा करने को कहा गया है, इसका कारण है कि उसकी एक्सपायरी डेट कम होती है। हमारे लिए एक-एक वैक्सीन महत्वपूर्ण है इसलिए टीके की बर्बादी को रोकने के लिए ऐसा कदम उठाया गया है। कोर्बीवैक्स अभी 12 से 14 वर्ष के बच्चों तथा 18 वर्ष से उपर के लोगों को प्रीकॉशनरी डोज में इस्तेमाल किया जा रहा है।

Leave a Reply

Your email address will not be published.