भारतीय जन नाट्य संघ के राष्ट्रीय अध्यक्ष रणबीर सिंह के निधन पर जताया शोक।

लक्ष्मीकांत प्रसाद(नजरिया संवाद) कटिहार। (कटिहार) देश के जाने माने रंगकर्मी, निर्देशक, नाट्य एवं फ़िल्म अभिनेता, लेखक एवं इतिहासकार रणवीर सिंग का निधन जयपुर में 93 वर्ष की आयु में हो गया। वे इप्टा के राष्ट्रीय अध्यक्ष थे। उनके निधन पर इप्टा कटिहार शाखा के रंगकर्मियों ने दो मिनट का मौन रखकर शोक जताते हुए श्रद्धांजलि अर्पित किया। इस अवसर पर इप्टा के कटिहार जिला शाखा अध्यक्ष राजकुमार साह ने उनकी जीवनी पर प्रकाश डालते हुए कहा कि वे 2012 में ए०के० हंगल के निधन के बाद भारतीय जन नाट्य संघ के राष्ट्रीय अध्यक्ष चुने गए। उन्होंने अनेक टीवी धारावाहिकों में भी महत्वपूर्ण भूमिकाएं निभाईं जिनमें अमाल अल्लाना के निर्देशन में “मुल्ला नसरुद्दीन”अनुराग कश्यप के निर्देशन में “गुलाल”एवं संजय खान के निर्देशन में “टीपू सुल्तान की तलवार” प्रमुख हैं। अभिनय और निर्देशन के अतिरिक्त उन्होंने अनेक नाटक लिखे जो हज़ारों बार खेले गए हैं इनमें प्रमुख हैं:-पासे, हाय मेरा दिल, सराय की मालकिन, गुलफाम, मुखौटों की ज़िंदगी, मिर्ज़ा साहब, अमृतजल, तन्हाई की रात। उन्होंने कई विदेशी नाटकों के भारतीय रूपांतरण भी किये। वे इतिहास के गहरे अध्येता थे। रंगमंच के इतिहास को उन्होंने वाजिद अली शाह, पारसी रंगमंच का इतिहास, इंदर सभा, संस्कृत नाटक का इतिहास जैसी पुस्तकों से समृध्द किया साथ ही नाटकों के कई विश्व कोषों में भारतीय रंगमंच की उपस्थिति दर्ज कराई। वे मॉरीशस में सांस्कृतिक सलाहकार भी रहे तथा राजस्थान संगीत अकादमी के उपाध्यक्ष रहे। उन्होंने रंगमंच के आदान-प्रदान हेतु इंग्लैंड, चेकोस्लोवाकिया, रूस, जर्मनी, फ्रांस, बंगलादेश, नेपाल आदि देशों का कई बार भ्रमण किया। शाखा सचिव मुकेश कुमार मोनी ने कहा कि वे इप्टा के हर राष्ट्रीय सम्मेलन, कार्यक्रम में नौजवानों की ऊर्जा के साथ शामिल होते थे। उनके मार्गदर्शन में इप्टा की सक्रियता निरंतर बढ़ती रही। रंगमंच में नए नाटकों और नए प्रयोगों को वे जरूरी मानते थे। इप्टा की चंदना झा, मनोज कुमार, नंदकिशोर ठाकुर, ऋचा चौधरी, लक्ष्मीकांत प्रसाद, प्रवीण ठाकुर, सचिन मिश्रा, मिथलेश, विशाल, मनीषा, मुस्कान, अंजली, सन्नी कुमार, मनीष आदि रंगकर्मियों ने अपने जिंदादिल अभिवावक के निधन पर उन्हें भावभीनी श्रद्धांजलि अर्पित किया।

Leave a Reply

Your email address will not be published.