मुजफ्फरपुर- डेंगू के चार संदिग्धों की रिपोर्ट आयी नेगेटिव।

– अभी जिले में एक भी डेंगू के मरीज नहीं
– बिना माइक्रोबायोलॉजी टेस्ट के डेंगू की पुष्टि नहीं

मुजफ्फरपुर। 13 अगस्त। एसकेएमसीएच के  माइक्रोबायोलॉजी   विभाग ने जिले के संदिग्ध चार डेंगू मरीजों की रिपोर्ट निगेटिव कर दी है। सभी संदिग्धों की रिपोर्ट निगेटिव आने से डेंगू के मरीजों की संख्या शून्य हो है। एसकेएमसीएच माइक्रोबायोलॉजी विभाग की विभागाध्यक्ष डॉ पूनम कुमारी ने बताया कि विभाग में मुजफ्फरपुर के संदिग्ध चार डेंगू मरीजों दिनेश कुमार, आसिन हयान खान, पुलसुम खातुन और पंकज कुमार के नमूनों की माइक्रोबायोलोजिकल जांच में  उनमें डेंगू की पुष्टि नहीं हुई है।

इस साल एक भी मरीज नहीं-

जिला भीबीडीसी पदाधिकारी डॉ सतीश कुमार ने बताया कि इस वर्ष जिले में डेंगू के एक भी मरीज की पुष्टि नहीं हुई है। डेंगू की जांच के बीच लोगों में बहुत सारी भ्रांतियां हैं। सबसे पहली भ्रांति इसके टेस्ट को लेकर है, लोग कहीं भी जाकर सिर्फ एनएस 1 टेस्ट के आधार पर अपने आप को डेंगू का मरीज मान लेते हैं। जबकि ऐसे मरीजों को सस्पेक्टेड मरीज की श्रेणी में रखा जाता है। जब तक उस सस्पेक्टेड मरीज का माइक्रोबॉयलोजिकल टेस्ट पॉजिटिव नहीं आ जाता है, तब तक वह डेंगू का मरीज नहीं माना जाता है। अगर कोई डेंगू से पीड़ित हो भी जाता है तो जिले के सभी सरकारी अस्पतालों में इसके उचित उपचार की व्यवस्था है।

हर पीएचसी पर उपलब्ध है उपचार-

डॉ सतीश कुमार ने कहा कि डेंगू के उपचार के लिए हर पीएचसी स्तर पर बेड सुरक्षित है। पेशेंट आने पर उन्हें वह उपलब्ध हो जाता है। इसके अलावा सभी पीएचसी पर पारासीटामोल की टेबलेट भी उपलब्ध है। डेंगू से बचाव के लिए जुलाई में भी पूरे माह सघन जागरूकता फैलाई गयी। जिसके तहत 32 से ज्यादा स्कूलों में छात्र-छात्राओं के बीच कारण, लक्षण व बचाव संबंधी बातें बतायी गयी थीं l

Leave a Reply

Your email address will not be published.