मोतिहारी- कालाजार उन्मूलन के लिए चिन्हित गांवों में एसपी का छिड़काव शुरू।

– 2 लाख 25 हजार 63 घरों एवं 173 गांवों में होना है सिंथेटिक पैराथायराइड का छिड़काव

– मजूराहां गांव से वेक्टर पदाधिकारी ने हरी झंडी दिखाकर शुरू किया अभियान।

मोतिहारी, 09 सितम्बर। शुक्रवार को जिले के तुरकौलिया सीएचसी अंतर्गत ग्राम मजूराहां से कालाजार नियंत्रण हेतु जिला वेक्टर जनित रोग पदाधिकारी डॉ शरत चन्द्र शर्मा एवं प्रभारी चिकित्सा पदाधिकारी तुरकौलिया डॉ नागेंद्र प्रसाद ने हरी झंडी दिखाकर सभी टीमों को अपने कार्य क्षेत्र के लिए रवाना किया। इस मौके पर जिला वेक्टर जनित रोग पदाधिकारी डॉ शरत चन्द्र शर्मा ने बताया कि पूर्वी चंपारण जिले में यह अभियान 2 महीने तक चलेगा। उन्होंने बताया कि 9 सितंबर से 24 नवम्बर तक अभियान चलाया जाएगा। उन्होंने बताया कि कालाजार उन्मूलन को लेकर स्वास्थ्य विभाग अलर्ट मोड पर है। इसे लेकर जिले में सिंथेटिक पैराथायराइड का छिड़काव सोमवार से शुरू हो गया है।

आईआरएस सेकेंड राउंड का छिड़काव का कार्य जिले के 26 पीएचसी, 149 पंचायतों, 173 गांवों में किया जाएगा। वहीँ 11 लाख 70 हजार 67 लोगों के 2 लाख 25 हजार 63 घरों में छिड़काव किया जाना है। इसे लेकर छिड़कावकर्मियों को ट्रेनिंग भी दी गई है। ट्रेनिंग के दौरान छिड़कावकर्मियों को बताया गया है कि गांव के सभी घरों में छिड़काव करना है। मालूम हो कि वर्ष 2022 के द्वितीय चरण (अगस्त-अक्तूबर) के तहत छिड़काव अभियान चलेगा।
छिड़काव के वक्त ध्यान रखने वाली बातें-
– छिड़काव के पूर्व घर की अन्दरूनी दीवार की छेद/दरार बंद कर दें।
– घर के सभी कमरों, रसोई घर, पूजा घर, एवं गोहाल के अन्दरूनी दीवारों पर छः फीट तक छिड़काव अवश्य कराएं
– छिड़काव के दो घंटे बाद घर में प्रवेश करें।
– छिड़काव के पूर्व भोजन सामग्री, बर्तन, कपड़े आदि को घर से बाहर रख दें।
– ढाई से तीन माह तक दीवारों पर लिपाई-पोताई ना करें, जिससे कीटनाशक (एस पी) का असर बना रहे।
– अपने क्षेत्र में कीटनाशक छिड़काव की तिथि की जानकारी आशा दीदी से प्राप्त करें।

Leave a Reply

Your email address will not be published.