मोतिहारी- स्वस्थ जीवन के लिए आयोडीन युक्त नमक का सेवन जरूरी : डॉ सिन्हा।

  • जिले में विश्व आयोडीन अल्पता बचाव सप्ताह का हुआ शुभारंभ

मोतिहारी। स्वस्थ जीवन के लिए आयोडीन युक्त नमक का सेवन जरूरी है। आयोडीन की कमी से घेंघा सहित शरीर में कई तरह की बीमारियां जन्म लेती हैं। इस कमी को दूर करने के लिए बीते 21 अक्टूबर से 27 अक्टूबर तक ग्लोबल आयोडीन अल्पता बचाव सप्ताह दिवस मनाया जाएगा। ये बातें सदर अस्पताल के एनसीडी सेल के चिकित्सक डॉ पीके सिन्हा कहीं। उन्होंने बताया कि जिले के सदर अस्पताल समेत कई स्वास्थ्य केंद्रों पर लोगों को जागरूक करते हुए विश्व आयोडीन जागरूकता सप्ताह का आयोजन किया जा रहा है।

आयोडीन वाले नमक का सेवन करें

डॉ पीके सिन्हा ने बताया कि इसकी कमी से विशेषकर महिलाओं में घेंघा रोग होता है। शरीर में फूलन और पैरों में सूजन होता है। अधिक ठंड लगती है। कब्ज रहता है और मासिक धर्म भी प्रभावित होता है। थायराइड बढ़ने से दिल की धड़कन बढ़ जाती है।कई जगह बौनापन की समस्याएं देखने को मिलती है। वहीं कई लोगों में आंख बाहर की तरफ निकलने की समस्या होती है। उन्होंने बताया कि आयोडीन के कमी से ब्लड शुगर और ब्लड प्रेशर प्रभावित होता है। इसकी कमी से बच्चा अपंग हो सकता है। इसलिए बिना आयोडीन वाला नमक का सेवन नहीं करना है।

जागरूकता व प्रचार-प्रसार के दिए गए है निर्देश

सिविल सर्जन डॉ अंजनी कुमार ने बताया से शुक्रवार से पूरे जिले में ग्लोबल आयोडीन अल्पता बचाव सप्ताह की शुरुआत की गई है। इसे लेकर पीएचसी स्तर पर लोगों को जागरूक करने के लिए पीएचसी में बैनर.पोस्टर लगाया जाएगा। स्वास्थ्य कर्मियों व आशा को निर्देश दिया गया है कि वे घर-घर जाकर लोगों को आयोडीन के महत्व की जानकारी देंगी। सीएस ने बताया कि आयोडीन युक्त नमक का नियमित रूप सेउचित मात्रा में सेवन करने से शरीर में आवश्यक आयोडीन की पूर्ति होती है। इससे तेज दिमाग, स्वस्थ एवं ऊर्जा से भरपूर शरीर और कार्य क्षमता में भी बढ़ोतरी होती हैं। आयोडीन युक्त नमक का सेवन हमें कई बीमारियों से दूर रखता है। इसलिए इसका उचित मात्रा में इस्तेमाल करें।

Leave a Reply

Your email address will not be published.