मोतिहारी- 14 नवम्बर से 04 दिसम्बर तक होगा पुरूष नसबंदी पखवाड़े का आयोजन।

-जनसंख्या स्थिरीकरण को लेकर चलाया जाएगा मिशन परिवार विकास अभियान
– महिला नसबंदी से भी सरल प्रक्रिया है पुरूष नसबंदी : सीएस
– अभियान के दौरान लोगों को किया जाएगा जागरूक : डीसीएम

मोतिहारी, 10 नवम्बर। जिले में जनसंख्या पर नियंत्रण हेतु मिशन परिवार विकास अभियान के तहत 14 नवम्बर से 04 दिसम्बर तक पुरूष नसबंदी पखवाड़े का आयोजन किया जाएगा। पूर्वी चम्पारण के सीएस डॉ अंजनी कुमार ने बताया कि जनसंख्या स्थिरीकरण को लेकर स्वास्थ्य विभाग की ओर से कई महत्वपूर्ण कार्यक्रम चलाए जा रहे हैं। इसी कड़ी में स्वास्थ्य विभाग ने निर्णय लिया है कि जिले में पुरुष नसबंदी पखवाड़ा का आयोजन किया जाएगा। इसको लेकर राज्य स्वास्थ्य समिति के कार्यपालक निदेशक संजय कुमार सिंह के पत्र व निर्देशों का पालन करते हुए जिले में 14 नवंबर से 4 दिसंबर तक मिशन परिवार विकास अभियान के अंतर्गत लोगों को जागरूक करते हुए पुरुष नसबंदी पखवारा आयोजित करने का निर्णय लिया गया है।

दो चरणों में आयोजित होगा पखवारा

डीसीएम नन्दन झा ने बताया कि पखवारा दो चरणों में आयोजित किया जाएगा। पहले चरण में 14 से 20 नवंबर तक “दंपति संपर्क सप्ताह” एवं 21 नवंबर से 4 दिसंबर तक “परिवार नियोजन सेवा पखवारा” का आयोजन किया जाएगा। पखवारा के दौरान स्वास्थ्य कर्मियों द्वारा स्वास्थ्य केंद्रों पर आने वाले योग्य  दंपति को गर्भनिरोधक के संबंध में परामर्श देते हुए इच्छित गर्भ निरोधक साधन अथवा सेवा उपलब्ध करायी जाएगी। पखवाड़े के दौरान आशा द्वारा कंडोम और गर्भनिरोधक गोलियों के वितरण पर विशेष ध्यान दिया जाएगा। लाभार्थी को बार-बार केंद्रों पर आने एवं बार-बार संपर्क से बचने के लिए कंडोम और गर्भनिरोधक गोली के अतिरिक्त पैकेट आपूर्ति की जा सकती है।

महिला नसबंदी से भी सरल प्रक्रिया है पुरूष नसबंदी

सिविल सर्जन डॉ. अंजनी कुमार ने बताया कि पुरुष नसबंदी महिला नसबंदी की अपेक्षा अधिक सुरक्षित और सरल है। इसके लिए न्यूनतम संसाधन, बुनियादी ढांचा और न्यूनतम देखभाल की आवश्यकता है। पुरुष नसबंदी को लेकर समाज में कई प्रकार का भ्रम फैला हुआ है। इस भ्रम को तोड़ना होगा। छोटा परिवार सुखी परिवार की अवधारणा को साकार करने के लिए पुरुष को आगे बढ़कर जिम्मेदारी उठाने की जरूरत है।

सभी प्रखंडों में चलेगा जागरूकता अभियान

सीएस डॉ अंजनी कुमार ने बताया कि पूर्वी चम्पारण के सभी 27 प्रखंडों में मिशन परिवार विकास अभियान आशा व अन्य स्वास्थ्य कर्मियों के सहयोग से चलाया जाएगा। आशा कार्यकर्ता घर घर जाकर लोगों को परिवार नियोजन के विषय मे जागरूक करेंगी, व इच्छुक लोगों को परिवार नियोजन हेतु प्रेरित करेंगी।

Leave a Reply

Your email address will not be published.