समस्तीपुर- राष्ट्र कवि रामधारी सिंह दिनकर की जयंती मनाई गई।

समस्तीपुर/दलसिंहसराय। (राज कुमार सिंह)।
रामाश्रय बालेश्वर महाविद्यालय के सभागार में शुक्रवार को महाविद्यालय के प्रभारी प्रधानाचार्य डॉ शकील अख़्तर की अध्यक्षता एवं हिंदी विभागाध्यक्ष डॉ. सुनील कुमार सिंह के नेतृत्व में राष्ट्र कवि रामधारी सिंह दिनकर की जयंती मनायी गयी। कार्यक्रम की विधिवत शुरूआत दीप प्रज्वलित कर किया गया। महाविद्यालय के प्राध्यापक, शिक्षकेतर कर्मचारी सहित छात्र-छात्राओं ने दिनकर जी के तैल चित्र पर पुष्पांजलि अर्पित कर उनके प्रति श्रद्धा निवेदित कीया। कार्यक्रम का संचालन करते हुए डॉ. सुनील ने कहा कि कवि दिनकर की कालजयी रचनाकार हैं। उन्होंने अपनी लेखनी के माध्यम से परतंत्र एवं स्वतंत्र भारत की तमाम विसंगतियों का बेवाकी से चित्रण किया है।उनका साहित्य एक मुकम्मल इंसान के निर्माण में पूर्णतः सक्षम है।
अन्य वक्ता डॉ. मनोहर कुमार यादव,डॉ संजीव कुमार साह, डॉ महताब आलम खां एवं डॉ विमल कुमार राष्ट्र कवि दिनकर की प्रतिभा पर परिचय कराते हुए विस्तार से रेखांकित किया।
वंही डॉ अख्तर ने अपने अध्यक्षीय संबोधन में कवि दिनकर जयंती की शुभकामनाएं देते हुए कहा कि दिनकर जी का जीवन संघर्षों से भरा हुआ था।उनके द्वारा किये गए संघर्ष की छाप उनके साहित्य में परिलक्षित होता है। उन्होंने छात्रों से दिनकर के साहित्य को पढ़ने एवं अनुकरण में लाने की अपील की। धन्यवाद ज्ञापन हिंदी प्राध्यापिका अलका कुमारी ने किया। मौके पर शिक्षकेतर कर्मचारी अमरनाथ शर्मा, अंकित मिश्रा आदि, छात्रों में सुमन कुमार, सोफिया प्रवीण, इस्मत प्रवीण, राजेश कुमार, विवेक कुमार, गुड़िया कुमारी, शाहीन शगुफ्ता,कनक कुमारी, कृतिका कुमारी, कुमारी नित्या ,हीना कुमारी, गायत्री कुमारी, कृष्ण कन्हैया, मुकेश कुमार भारती, मनीष कुमार,मो. तबरेज,मो. अफसर, नंदनी प्रिया, दीप्ति कुमारी, मनीष सिन्हा, रोहित कुमार,पारस कुमार आदि दर्जनों छात्र-छात्राएं उपस्थित थे। राष्ट्रगान की सामूहिक प्रस्तुति के साथ कार्यक्रम की समाप्ति हुई।

Leave a Reply

Your email address will not be published.